Published On: Sun, Apr 25th, 2021

अंबेडकर नगर में स्वास्थ विभाग पर कोरोना पीड़ित बैंक मैनेजर की मौत को छिपाने का आरोप


जानकारी होने पर आक्रोशित परिजनों ने की तोड़फोड़, तो पुलिस ने किया लाठी चार्ज।

अम्बेडकर नगर. कोरोना से हुई बैंक मैनेजर की मौत को छिपाने के मामले को लेकर आक्रोशित परिजनों ने एम्बुलेंस में किया तोड़फोड़ तो भड़के सीओ ने परिजनों पर उतारा जमकर गुस्सा। पुलिस की लाठी चार्ज में मृतक के कई परिजन को चोट लगी है।

परिजनों को नहीं मिली मरीज की जानकारी

मामला जिले के टांडा में बनाये गए कोविड सेंटर एमसीएच का है, जहां 22 अप्रैल को सुबह 10 बजे बसखारी थाना क्षेत्र के बुकिया गांव के निवासी संदीप कुमार को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनके परिजन टांडा के एमसीएच कोविड सेंटर पर ले जाकर भर्ती कराए थे, जहां परिजनों को रुकने भी नही दिया गया और वे लोग संदीप को छोड़कर चले गए। घर से परिजनों से संदीप की बात फोन पर कई बार हुई, लेकिन मोबाइल की बैटरी डाउन हो जाने के बाद फोन बंद हो गया और उसके बाद परिजनों को संदीप की कोई जानकारी नहीं मिली। शुक्रवार की सुबह जब संदीप के परिजन हाल चाल जानने के लिए कोविड सेंटर पहुंचे तो वहां भी उन्हें न तो अंदर जाने दिया गया और न ही संदीप के बारे में कोई जानकारी ही मिल सकी। किसी तरह शाम को परिजनों को किसी से पता चला कि उनके पेसेंट संदीप की तो रात में ही मौत हो गई है। इसके बाद संदीप के परिजन और उनके साथ आये लोग आक्रोशित हो गए और इन लोगों ने वहां खड़ी एक एम्बुलेंस पर अपना गुस्सा उतारते हुए तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसकी जानकारी जब पुलिस को मिली तो मौके पर थानाध्यक्ष अलीगंज यशवंत यादव, सीओ टांडा संतोष कुमार और एसडीएम अभिषेक पाठक दलबल के साथ मौके पर पहुंच कर वहां एकत्रित भीड़ पर लाठी चार्ज कर दिया, जिसमे मृतक संदीप की चाची पुष्पा और छोटे भाई कुलदीप को चोटें आई हैं।

सही इलाज न मिलने के चलते मौत

परिजनों ने बताया कि संदीप बैंक आफ बड़ौदा की शाखा जमुनी पुर अकबरपुर में ब्रांच मैनेजर के पद पर तैनात थे। इन लोगों का कहना है कि जब उन्हें भर्ती कराया गया था, उस समय आक्सीजन लेबल 98 और बुखार 99.5 डिग्री था। आरोप लगाया कि अस्पताल में ठीक से इलाज न करने के कारण संदीप की मौत हो गई है।





Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!