धर्मांतरण मामला: मुस्लिम युवक की पिटाई करने वाले तीनों आरोपियों को मिली जमानत


सुमित शर्मा, कानपुर
उत्तर प्रदेश के कानपुर में मुस्लिम युवक की पिटाई करने वाले तीनों आरोपियों को कोर्ट से जमानत मिल गई है। पुलिस ने बीते गुरुवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपियों की गिरफ्तारी से नाराज हिंदूवादी संगठन ने बीती रात डीसीपी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया था। पीड़ित युवक की शिकायत पर पुलिस ने 147, 323, 504, 506 की धाराओं में 5 नामजद और 10 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया था।

जानकारी के मुताबिक, बर्रा थाना क्षेत्र स्थित रामगोपाल चौराहा के पास बीते बुधवार को हिंदूवादी संगठन धर्मांतरण के मामले में हंगामा कर रहे थे। इस दौरान कुछ लोगों ने मुस्लिम ई रिक्शा चालक की जमकर पिटाई की थी। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। वीडियो में देखा जा सकता है कि ई रिक्शा चालक को कुछ लोग बेरहमी से पीट रहे थे, रिक्शा चालक की मासूम बेटी पिता को पिटता देख रो रही थी, बच्ची पिता को छोड़ने की मिन्नतें कर रही थी। पुलिस युवक को बचाने का प्रयास कर रही थी, इसके बाद भी भीड़ में मौजूद लोग उसकी पिटाई कर रहे थे।

फरार साथियों की तलाश जारी
इस मामले में कमिश्नर असीम अरुण का कहना है कि कानपुर में एक वीडियो प्रकाश में आया था। जिसमें एक व्यक्ति के साथ मारपीट की जा रही थी। इस घटना में पुलिस द्वारा युवक को बचाया गया। इसके बाद जिसनें मारपीट की थी उनकी पहचान कर एफआईआर दर्ज की गई थी। गुरुवार को तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य इनके साथियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। घटना स्थाल पर पुलिस बल तैनात किया गया, स्थिति सामान्य है।

क्या था पूरा मामला
बर्रा थाना क्षेत्र स्थित कच्ची बस्ती में बड़ी संख्या में मुस्लिम आबादी रहती है। आबादी के बीच पीड़ित परिवार बेटियों के साथ रहता है। पीड़ित परिवार का आरोप था कि आसपास रहने वाले दूसरे समुदाय के लोग हमारे परिवार पर पैसे लेकर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाते हैं। बेटियों के साथ छेड़छाड़ करते हैं। जब उनकी इस करतूत का विरोध करते हैं, तो गाली-गलौच करते हैं। छेड़छाड़ की वजह से बेटियां घर से बाहर नहीं निकलती हैं। पीड़ित परिवार ने बेटियों के साथ छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस से की थी। पुलिस ने बजरंगदल के कार्यकर्ताओं के दबाव में 354 में एफआईआर दर्ज कर ली थी। लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर रही थी। जिसकी वजह से आरोपियों के हौसले बुलंद थे। आरोपी लगातार पीड़ित परिवार पर केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे। पीड़ित परिवार ने बीते बुधवार को बजरंगदल के कार्यक्रताओं से शिकायत की थी। जिसके बाद बजरंगदल के कार्यककर्ता मौके पर पहुंचे थे।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!