Published On: Sun, Sep 20th, 2020

नेपाल के पूर्वाग्रहों को दरकिनार कर भारत ने सौंपी दो लग्जरी ट्रेन


(Bihar News ) नेपाल (Nepal ) के नक्शा विवाद सहित तमाम पूर्वाग्रहों को दरकिनार करते हुए पड़ौसी देशों से बेहतर संबंध बनाने की दिशा में भारत नेपाल (India wrote new friendship chapter) के साथ एक कदम आगे बढ़ गया है। भारत ने नेपाल से (India-Nepal relation ) रिश्तों की नई इबारत लिखी है। बिहार के मधुबनी स्थित जयनगर से नेपाल के (India give 2 train to Nepal ) जनकपुर धाम तक की ट्रेन सेवा जल्द ही शुरू होने वाली है। कोंकण रेल कॉर्पोरेशन ने नेपाल रेलवे को इसके लिए दो ट्रेनों का सेट डिलीवर कर दिया है।

मधुबनी (बिहार): (Bihar News ) नेपाल (Nepal ) के नक्शा विवाद सहित तमाम पूर्वाग्रहों को दरकिनार करते हुए पड़ौसी देशों से बेहतर संबंध बनाने की दिशा में भारत नेपाल (India wrote new friendship chapter) के साथ एक कदम आगे बढ़ गया है। भारत ने नेपाल से (India-Nepal relation ) रिश्तों की नई इबारत लिखी है। यह नया रिश्ता बना है रेलवे के माध्यम से। बिहार के मधुबनी स्थित जयनगर से नेपाल के (India give 2 train to Nepal ) जनकपुर धाम तक की ट्रेन सेवा जल्द ही शुरू होने वाली है। कोंकण रेल कॉर्पोरेशन ने नेपाल रेलवे को इसके लिए दो ट्रेनों का सेट डिलीवर कर दिया है।

अब ब्रॉडगेज पर दौड़ेगी
बिहार और भारत सहित नेपाल के लोग ब्रॉड गेज की ट्रेन का सफर का आनंद उठा सकेंगे। इस रूट पर पहले नैरो गेज लाइन की ट्रेनें चला करती थीं, लेकिन आमान परिवर्तन कर इसे ब्रॉड गेज किया गया है। पुरानी ट्रेनों से सफर कर चुके यात्रियों के लिए इस शानदार लग्जरी ट्रेन में सफर करना रोमांचक अनुभव होगा। नेपाल में चलने वाली इन ट्रेनों के कोच को बेहतरीन डिजाइन दिया गया है. कोच के अंदर की सीटें यात्रियों को लग्जरी सफर का अहसास कराएं, इसका पूरा ख्याल रखा गया है।

कोंकण रेलवे की करामात
कोंकण रेलवे ने नेपाल में चलने वाली इन ट्रेनों का ट्रायल रन भी सफल तरीके से पूरा कर लिया है। इसके बाद पिछले करीब 5 साल से बंद जयनगर-जनकपुर ट्रेन सेवा के जल्द ही शुरू होने की संभावनाएं बढ़ गई हैं। गौरतलब है कि जयनगर से जनकपुर और उससे आगे तक नेपाल में रेल रूट के विस्तार में भारत सरकार मदद कर रही है। पिछले दिनों जब ट्रायल रन के तहत नेपाल के जनकपुर धाम तक ये ट्रेन पहुंची तो वहां हाल ही में बने नए स्टेशन पर देखने वालों की भारी भीड़ जुट गई।

उद्घघाटन नेपाल करेगा
करीब 52 करोड़ की लागत से नये डिजाइज में निर्मित नेपाली डीएमयू ट्रेन को देखने लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। लोगों में करीब आठ वर्ष के लंबे इंतजार के बाद शीघ्र जनकपुरधाम तक ट्रेन परिचालन की उम्मीद जगी है। हालांकि उद्घाटन की तिथि नेपाल सरकार तय करेगी। इसकी सूचना भारत सरकार को भी दी जाएगी। उसके बाद ही दोनों देशों के बीच ट्रेन परिचालन संभव है।






Show More

















Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!