Published On: Thu, Jul 30th, 2020

बिहार के पावर ग्रिड में बाढ़ से अंधेरे में डूबे 12 जिले


(Bihar News ) कोरोना से गंभीर (Bihar faceing problems ) रूप से जूझ रहे बिहार की परेशानियां खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। बाढ़ की विभीषिका झेल रहे बिहार के सामने बिजली आपूर्ति की नई समस्या खड़ी हो गई है। दरभंगा स्थित स्थित नेशनल पावर ग्रिड में बाढ़ (Flood in power grid ) का पानी घुसने से प्रदेश के करीब 12 जिलों (12 district in darkness ) में बिजली आपूर्ति ठप्प हो गई है।

जमुई(बिहार): (Bihar News ) कोरोना से गंभीर (Bihar faceing problems ) रूप से जूझ रहे बिहार की परेशानियां खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। बाढ़ की विभीषिका झेल रहे बिहार के सामने बिजली आपूर्ति की नई समस्या खड़ी हो गई है। दरभंगा स्थित स्थित नेशनल पावर ग्रिड में बाढ़ (Flood in power grid ) का पानी घुसने से प्रदेश के करीब 12 जिलों (12 district in darkness ) में बिजली आपूर्ति ठप्प हो गई है।

400 केवीए पावर सप्लाई ठप
नेशनल पावर ग्रिड बहादुरपुर प्रखंड के देकुली गांव स्थित है। इसका संचालन दरभंगा-मोतिहारी ट्रांसमिशन कंपनी नाम से होता है। ग्रिड में पानी भर जाने से दरभंगा, मुजफ्फरपुर, लोकही, मोतीपुर और समस्तीपुर पावर ग्रिड में 400 केवीए पावर सप्लाइ पूरी तरह ठप हो गई है। बिजली आपूर्ति ठप होने से दरभंगा, सारण, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, सीवान, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, सीतामढ़ी, शिवहर और मधुबनी जिलों में बिजली आपूर्ति बाधित हो गयी है।

ग्रिड में 4 फीट पानी जमा
इस ग्रिड में बताया जाता है कि भूटान से किशनगंज होते हुए दरभंगा पावर ग्रिड में बिजली पहुंचती है। फिर यहां से 220 केवी के करीब आधा दर्जन ग्रिड को बिजली आपूर्ति की जाती है। इस ग्रिड में 22 जुलाई से पानी घुसना शुरू हुआ था। जो बढ़ता गया। अब ग्रिड में करीब चार फीट पानी भर गया है। कई मशीनें डूब गई है। तकनीकी जानकारों के अनुसार पानी उतर जाने के बाद भी ग्रिड को री-स्टोर करने में कम से कम तीन महीने का समय लग सकता है। स्टेशन इंचार्ज निशांत कुमार ने बताया कि पानी काफी बढ़ जाने के कारण पावर सप्लाइ बंद कर दी गई है। सामान्य दिनों में यहां से 960 मेगावाट बिजली की सप्लाइ ग्रिडों में की जाती है।

बकुची ग्रिड भी हो गई थी बंद
एक सप्ताह पहले मुजफ्फरपुर के बकुची पावर ग्रिड में बाढ़ का पानी घुस गया था। बागमती नदी का पानी बकुची पावर ग्रिड में घुसने से इलाके की बिजली आपूर्ति बंद करनी पड़ गई थी। पीएसएस से बिजली आपूर्ति ठप होने के बाद 18 पंचायतों की डेढ़ लाख की आबादी बारिश व बाढ़ में अंधेर में रहने को मजबूर हो गई थी।






Show More














Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!