Published On: Sun, Sep 12th, 2021

राष्ट्रीय लोक अदालत में 1132 मामलें निबटाएं, पक्षकारों ने जतायी आस्था


नवादा। विधि संवाददाता

व्यवहार न्यायालय नवादा परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत को आयोजन किया गया। जिसमें 1132 मामलो को निपटाया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अध्यक्ष सह जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेश नारायण सेवक पांडेय व प्राधिकार के उपाध्यक्ष सह जिला दंडाधिकारी यशपाल मीणा, प्राधिकार के सचिव प्रवीण कुमार सिंह सह अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने दीप प्रज्ज्वलित कर लोक अदालत का शुभारम्भ किया। साथ में न्यायिक पदाधिकारी, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार व पैनल अधिवक्ता उपस्थित रहें। इस अवसर पर जिला जज ने कहा कि लोक अदालत एक ऐसा अदालत है, जो पक्षकारों के बीच की वैमनश्यता को दूर करता है तथा आपसी प्रेम को बढावा देता है। उन्होंने यह भी कहा कि इस अआलत का फैसला अंतिम होता है, जो बिना खर्च का आपसी समझौता के आधार पर मुकदमा का निपटारा करता है। इस फैसला से काई भी पक्षकार की ना तो जीत होती है और ना ही कोई हारता है। लोक अदालत पक्षकारों को आपसी रूप से समझौता करने को एक स्थान व अवसर प्रदान करता है।

जानकारी देते हुए प्राधिकार के सचिव ने बताया कि आयोजित अदालत में कुल 1132 मामलों को आपसी समझौता के आधार पर निपटाया गया। प्रोजक्ट कन्या इंटर विद्यालय में आयोजित लोक अदालत में जिला अंतर्गत सभी बैंकों ने 694 ऋणियों के साथ समझौता किया। जिसमें पंजाब नेशनल बैंक ने 428, दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक ने 149, स्टेट बैंक आफ इंडिया ने 36, यूनियन बैक ऑफ इंडिया ने 27, बैक ऑफ इंडिया ने 05, को ऑपरेटिव बैंक ने 01 तथा यूको बैंक ने 02 ऋणियों के साथ समझौता किया। सभी बैकों ने 5 करोड़ 94 लाख रुपये की वापसी का समझौता करते हुए 90 लाख 83 हजार 2 सौ 55 रूपये वसूले। शेष समझौता राशि को कर्जदार किस्त में अदा करेगें। वहीं व्यवहार न्यायालय के विभिन्न न्यायालयों में लम्बित 400 आपराधिक मामलों को आपसी समझौता के आधार पर निपटाया गया। 03 वैवाहिक वाद, 10 निलाम वाद सहित अन्य मामलों को भी निपटारा किया गया। विद्युत कम्पनी ने 28 उपभोक्ताओं के विपत्र का सुधार किया। जबकि 732 प्रीलिटिगेशन मामलों को भी निपटाया गया।

आयोजित अदालत का संचालन न्यायायिक पदाधिकारी राजेश कुमार, प्रमोद कुमार पंकज, शशिकांत ओझा, मृत्युंजय सिहं, सत्य प्रकाश शुक्ला, संजीव कुमार राय, अशोक कुमार गुप्ता, अमित कुमार पांडेय, अनिल कुमार राम, कुमार अविनाश, अरविन्द कुमार गुप्ता, दिवाकर कुमार, प्रशांत कुमार, अदिति कुमारी, राजीव कुमार, रूपा रानी व कंचन प्रभा ने किया। जबकि प्रधिकार के कर्मी राकेश कुमार, कुणाल कुमार, सुशील कुमार, रामअखिलेश पासवान, अली सबीर हसनैन, अभिजीत कुमार, दिवाकर व अनिकेश कुमार काफी सक्रिय रहे। अदालत परिसर में सुरक्षा के पोख्ता इंतजाम थे तथा पेयजल की भी व्यवस्था थी।

जिला जज ने परिसर का भी लिया जायजा

राष्ट्रीय लोक अदालत के सफलता पर जिला जज ने जिला प्रशासन तथा अधिवक्ताओं को धन्यवाद दिया। उन्होने कहा कि जिला प्रशासन ने इस अदालत का जोर-शोर से प्रचार प्रसार किया था। वहीं अधिवक्ताओं का पूरा सहयोग मिला। जिला जज, जिला अधिकारी व सचिव ने घूम-घूमकर अदालत का मुआयना किया तथा किसी स्थान पर उत्पन्न समस्या का भी निपटारा किया। एकबारगी जिला जज, प्राधिकार सचिव के साथ न्यायालय के मुख्य गेट पर पहुंचे और पक्षकारों के बारे में जानकारी ली।

लोक अदालत ने दो जोड़ी को मिलाया

जिला अंतर्गत रोह निवासी दीपक शर्मा तथा उनकी पत्नि ज्योति कुमारी के बीच वैवाहिक विवाद राष्ट्रीय लोक अदालत में समाप्त हो गया और पति वो पत्नि खुशी-खुशी एक साथ गया। कुछ ऐसा ही वारिसलीगंज निवासी पिन्टू चौधरी व रेखा देवी के साथ हुआ। दोनो के बीच चल रहे मुकदमों को समाप्त करते हुए आपस में मिल गये तथा जीवन रूपी गाड़ी को एक साथ चलाने का संकल्प लिया।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!