Published On: Mon, Sep 6th, 2021

ALERT! फोन या ईमेल पर सेव पर रहे हैं ATM PIN तो कंगाल करने के लिए काफी है ये गलती, पढ़िए क्या है सही तरीका


आज, किसी के पास कई बैंक खाते हो सकते हैं और इसके साथ, कई डेबिट, क्रेडिट और एटीएम कार्ड हो सकते हैं। अक्सर यह सलाह दी जाती है कि एक से अधिक बैंक कार्डों के लिए एक ही पासवर्ड या एटीएम पिन न रखें। लेकिन क्या आप यह भी जानते हैं कि अपने एटीएम पिन को अपने मोबाइल, कंप्यूटर या ईमेल पर स्टोर करना असुरक्षित है? क्यों और कैसे जानने के लिए पढ़ें…

तीन में से एक भारतीय पीसी, मोबाइल पर पर्सनल डेटा स्टोर करते हैं, कम्युनिटी प्लेटफॉर्म लोकलसर्किल द्वारा किए गए एक नए सर्वे ने भारतीयों के कुछ दिलचस्प व्यवहार लक्षणों का खुलासा किया है। रिपोर्ट में पाया गया कि तीन में से एक भारतीय अपने मोबाइल, कंप्यूटर या ईमेल पर गोपनीय जानकारी रखता है। यहां, जानकारी कुछ भी हो सकती है जैसे बैंक अकाउंट डिटेल, डेबिट कार्ड की जानकारी, क्रेडिट कार्ड क्रेडेंशियल, एटीएम पिन, पैन कार्ड नंबर, आधार नंबर आदि।

इतना ही नहीं, 11 प्रतिशत भारतीय पर्सनल फाइनेंशियल जानकारी अपने फोन कॉन्टैक्ट लिस्ट में स्टोर करते हैं। आपको पता होना चाहिए कि ऐप्स कॉन्टैक्ट लिस्ट एक्सेस सहित ऐप्स की परमिशन एक्सेस मांगते हैं। सर्वे रिपोर्ट ने आगे खुलासा किया कि भारतीय अपने पासवर्ड “निकट परिवार के 1 या अधिक सदस्यों” के साथ शेयर करते हैं।

ये भी पढ़ें- Google का ये फोन खरीद कर पछता रहे यूजर! खराब हुए ज्यादातर फोन, कंपनी ने अबतक नहीं की कोई मदद; पढ़ें पूरा मामला

सर्वे रिपोर्ट में आगे बढ़ते हुए, सर्वे की गई आबादी के सात प्रतिशत ने कहा कि उन्होंने अपने फोन पर बैंक खाते, डेबिट या क्रेडिट कार्ड सीवीवी, एटीएम पासवर्ड, आधार या पैन नंबर जैसी डिटेल्स स्टोर की है। अन्य 15 प्रतिशत ने कहा कि उन्होंने इसे अपने ईमेल या कंप्यूटर पर स्टोर किया है। सर्वे में शामिल केवल 21 प्रतिशत ने कहा कि उन्होंने अपने सभी पर्सनल डेटा और जानकारियों को याद रखा है जबकि 39 प्रतिशत ने इसे कागज पर सहेजा है।

क्रेडेंशियल्स ऑनलाइन सहेजने का क्या जोखिम है, ये हैक और डेटा चोरी की बढ़ती संख्या से आपको अंदाजा लग जाना चाहिए। जब हम अपने आधार और पैन नंबर सहित अपनी कोई भी पर्सनल जानकारी स्टोर करते हैं, तो यह एक जोखिम बन जाता है। इसके अलावा, हमारे एटीएम पिन कोड जैसे डेटा को सहेजना एक और खतरा है। आज, आपके एटीएम पिन से बहुत सी अवैध और दुर्भावनापूर्ण गतिविधियां संभव हैं। हम अक्सर पैसे की हानि और इस तरह की अन्य घटनाओं के बढ़ने के बारे में सुनते हैं।

ये भी पढ़ें- आ गया दुनिया का सबसे सेफ एंड्रॉइड स्मार्टफोन NitroPhone 1, कीमत ऐसी की हर कोई खरीद लेगा

आप अपनी क्रेडेंशियल्स कहां सेव कर सकते हैं?
स्वाभाविक रूप से, यह एक और सवाल है जो हर कोई जानना चाहता है। आज हमारे पास बहुत सी महत्वपूर्ण और संवेदनशील जानकारी है जिसे सुरक्षित रखने की आवश्यकता है। यदि आप अपना डेटा ऑनलाइन स्टोर या सहेजना चाहते हैं, तो इसे सुरक्षित रखने के लिए यहां कुछ स्टेप्स दिए गए हैं:

स्टेप 1: पासवर्ड आपके दस्तावेज़ों की सुरक्षा करता है। इसे केवल आपकी कॉन्टैक्ट लिस्ट या आपके फ़ोन के नोट्स पर सहेजने के बजाय, इस डेटा को पासवर्ड प्रोटेक्टेड रखिए। यह सुनिश्चित करता है कि आपके अलावा किसी के पास भी इस जानकारी तक पहुंच नहीं है।

स्टेप 2: इसे क्लाउड पर सहेजें। क्लाउड स्टोरेज एक और तरीका है जिससे आप अपने क्रेडेंशियल्स को सुरक्षित रख सकते हैं। इसे केवल अपने पीसी या ईमेल पर सहेजने के बजाय, इसे अपने क्लाउड स्टोरेज में ट्रांसफर करें। एक बार हो जाने के बाद, सुनिश्चित करें कि यह एक बार फिर से पासवर्ड से सुरक्षित है।

स्टेप 3: इसे पोर्टेबल डिस्क पर सहेजें। यदि आप इसे क्लाउड पर सहेजने के बारे में सुनिश्चित नहीं हैं, तो आप इस जानकारी को सहेजने के लिए हार्ड डिस्क या पेन ड्राइव का भी उपयोग कर सकते हैं। पोर्टेबल डिस्क में पासवर्ड रखने का विकल्प भी होता है, जो सुरक्षा को बढ़ावा देने में मदद करता है।

स्टेप 4: जागरूक और अपडेट रहें। संवेदनशील फाइनेंशियल डिटेल्स सभी के लिए एक बड़ा जोखिम हैं, खासकर हैकर्स की बढ़ती संख्या के साथ। हमेशा अपडेट रहना और नई घटनाओं से अवगत रहना महत्वपूर्ण है। अत्यधिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आप अपना पासवर्ड और एटीएम पिन कोड भी बदलते रह सकते हैं।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!