Published On: Sat, Jul 17th, 2021

Aligarh News: प्रयागराज एक्सप्रेस में हुई 7 लाख की ज्वेलरी चोरी का GRP ने किया खुलासा, सांसी गैंग का सरगना दबोचा


अलीगढ़
अलीगढ़ जंक्शन की जीआरपी ने प्रयागराज एक्सप्रेस ट्रेन में ज्वेलरी से भरा बैग चोरी करने की घटना का खुलासा किया। पुल‍िस ने सांसी गैंग के सरगना मनोज उर्फ मोनू को मीनाक्षी पुल के पास आउटर से भागते हुए रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया। पकड़े गए शातिर ने 12 जून को प्रयागराज एक्सप्रेस में ज्वेलरी से भरा महिला का पिट्ठू बैग चोरी किया था। पुल‍िस ने आरोपी चोर के पास से 7 लाख के जेवरात सहित 24585 हजार रुपये नकद बरामद क‍िए गए।

पुल‍िस के मुताब‍िक, अंकिता निवासी विवेक विहार, सेक्टर 82, नोएडा से 12 अप्रैल को प्रयागराज एक्सप्रेस से प्रयागराज से गाजियाबाद के लिए ट्रेन से यात्रा कर रही थी। यात्रा के दौरान अंकिता सिंह का जेवरों से भरा पिट्टू बैग अज्ञात बदमाशों ने ट्रेन से चोरी कर लिया गया था। घटना के बाद पीड़िता ने जीआरपी गाजियाबाद पंहुच मुकदमा दर्ज कराया। इसके बाद 12 अप्रैल को अलीगढ़ जीआरपी को घटना के बारे में सूचना दी गई। इसके बाद तत्काल अलीगढ़ जीआरपी ने केस दर्ज कर जांच शुरू की।

मामले का खुलासा करने के लिए सर्विलांस टीम सहित एक टीम का गठन कर दिया था। इसके बाद गठित टीम ने सर्विलांस और मुखब‍िर की मदद से जांच की गई। आरोपी मनोज उर्फ मोनू निवासी ग्राम बलहम्वा थाना महम जिला रोहतक (हरियाण) को 16 जुलाई को पूर्वी आउटर मीनाक्षी पुल के नीचे से भागते हुए गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि उसके तीन साथी नरेश उर्फ बुडढा, कानी उर्फ प्रदीप नीना उर्फ राहुल निवासी हरियाणा अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से भाग गए।

जानकारी के अनुसार, ट्रेनों के अंदर चोरी की घटना करने वाला शातिर चोर हरियाणा राज्य के रोहतक जिले के थाना महम इलाके के गांव बलहम्वा का रहने वाला है। जो सांसी गैंग का सरगना है। शातिर चोरों के ऊपर गंभीर धाराओं में अलग-अलग थानों में मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस को आरोपी ने पूछताछ के दौरान कहा कि चारों लोगों का सासी गैंग है। इस गैंग के सभी लोग सुपरफास्ट और एक्सप्रेस रेलगाड़ियां में चढ़कर यात्रि‍यों के बैग और अटैचि‍यों से ज्वैलरी और कैस चोरी करते हैं।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!