Published On: Sat, Aug 7th, 2021

Bihar Panchayat Chunav : मुजफ्फरपुर में 850 वोटरों पर चार ईवीएम, जानिए कैसे कराई जाएगी वोटिंग


हाइलाइट्स

  • बिहार में पंचायत चुनाव का जल्द हो सकता है ऐलान
  • सभी जिलों में चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर
  • मुजफ्फरपुर में पंचायत चुनाव को लेकर बूथवार वोटरों की संख्या तय
  • एक बूथ पर 850 से अधिक मतदाता नहीं, चार EVM निर्धारित

मुजफ्फरपुर
बिहार में आगामी पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Election 2021) को लेकर उल्टी गिनती शुरू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission) ने प्रस्तावित चुनावी कार्यक्रम की अधिसूचना जारी करने को लेकर पंचायती राज विभाग को अपनी अनुशंसा भेज दी है। इस बीच अलग-अलग जिलों में भी इसको लेकर तैयारी तेजी से आगे बढ़ रही है। मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन ने पंचायत चुनाव के लिए खास तैयारी की है। प्रत्येक मतदान केंद्र पर 850 से अधिक मतदाता नहीं होंगे। हर बूथ पर चार ईवीएम निर्धारित की गई हैं।

प्रदेश में पहली बार पंचायत चुनाव में EVM का इस्तेमाल
पहली बार है जब सूबे में पंचायत चुनाव के लिए ईवीएम का इस्तेमाल किया जा रहा है। 2 लाख 59 हजार से अधिक प्रतिनिधियों के चुनाव के लिए कार्यक्रम जल्द ही घोषित होने की संभावना है। ग्राम कचहरी के दो पदों – पंच और सरपंच – पर चुनाव बैलेट पेपर के जरिए होगा। वहीं मुखिया, वार्ड सदस्य, पंचायत समिति सदस्य और जिला बोर्ड सदस्य के चार पदों पर प्रतिनिधियों का चुनाव करने के लिए ईवीएम का इस्तेमाल किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:- बिहार पंचायत चुनाव के लिए उल्टी गिनती चालू, जान लीजिए कब है आपकी पंचायत में वोटिंग

एक बूथ पर 850 से अधिक मतदाता नहीं, रहेंगी चार EVM
मुजफ्फरपुर में पंचायत चुनाव को लेकर बूथवार वोटरों की संख्या तय कर ली गई है। इसके अलावा चुनाव आयोग के निर्देशानुसार हर बूथ पर चार ईवीएम निर्धारित की गई हैं। राज्य सरकार की ओर से कुछ नगर परिषद के अपग्रेशन के बाद राज्य में कुल मिलाकर 8003 पंचायतें हैं। जिसके चलते मतदान केंद्रों (पोलिंग बूथ) की संख्या बढ़ाकर 1.14 लाख कर दी गई है। प्रत्येक मतदान केंद्र पर 850 से अधिक मतदाता नहीं होंगे।

बिहार पंचायत चुनाव : जल्द जारी हो सकती है पंचायत चुनाव की अधिसूचना

राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी की है खास गाइडलाइंस
जानकारी के मुताबिक, 10 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव में कुल 6.38 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। पंचायतों में 2.58 लाख से कुछ अधिक पद भरे जाएंगे। राज्य चुनाव आयोग ने आगामी पंचायत चुनावों में प्रचार के लिए धार्मिक स्थलों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाया है।उम्मीदवारों को चुनाव प्रचार के दौरान किसी भी राजनीतिक दल के झंडे का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं होगी। तीन स्तरीय पंचायती राज संस्थानों के आगामी चुनाव के लिए एसईसी की ओर से जारी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि ऐसे कदम आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन माना जाएगा और ऐसे में कार्रवाई की जाएगी।

navbharat-times (1)



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!