Published On: Mon, Aug 16th, 2021

Muzaffarpur News : ‘दो घंटे में तुम्हारी वर्दी उतरवा दूंगा…’ धमकी देनेवाला JDU का नेता गिरफ्तार, मुजफ्फरपुर के औराई का मामला


हाइलाइट्स

  • मुजफ्फरपुर युवा जेडीयू के जिलाध्यक्ष संतोष भास्कर गिरफ्तार
  • संतोष भास्कर पर औराई के थानाध्यक्ष को धमकाने का आरोप
  • आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर दी थी वर्दी उतरवाने की धमकी

संदीप कुमार, मुजफ्फरपुर
मुजफ्फरपुर में औराई थानेदार को वर्दी उतरवाने की धमकी देने वाले जेडीयू नेता संतोष भास्कर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। संतोष भास्कर ने सरकारी मोबाइल पर कॉल कर औराई थानेदार राजेश कुमार के साथ अभद्रता की थी। थानेदार के बयान पर केस दर्ज किया गया था।

जेडीयू का धमकीबाज नेता गिरफ्तार
आखिरकार जेडीयू नेता संतोष भास्कर गिरफ्तार कर लिए गए। उनपर आरोप है कि उन्होंने औराई थानाध्यक्ष को कॉल कर अभद्रता से बात की थी। दो घंटे में वर्दी उतरवा लेने की धमकी दी थी। रविवार को पुलिस को संतोष भास्कर के औराई में होने की सूचना मिली तो टीम ने दबिश देकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। उम्मीद है को सोमवार को उन्हें जेल भेज दिया जाएगा। संतोष भास्कर फिलहाल युवा जदयू जिलाध्यक्ष के पद पर है। दरअसल दो महीने पहले औराई में छात्र जदयू के एक सदस्य के साथ मारपीट हुई थी। संतोष भास्कर पुलिस पर दबाव बना रहे थे। मामले में तुरंत केस दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी करने को लेकर औराई थानेदार को कह रहे थे। इसी दरम्यान फोन कर थानेदार को धमकाने लगे।

संतोष भास्कर पर धमकाने का आरोप
आरोपों के मुताबिक संतोष भास्कर ने फोन कर कहा कि तुम मुझे जानते नहीं… वर्दी उतरवा दूंगा। मारपीट के मामले का थानेदार राजेश कुमार जांच कर रहे थे। इस दौरान संतोष भास्कर ने सरकारी नंबर पर कॉल किया और पूछा कि औराई थानेदार बोल रहे हैं। थानेदार ने हां में जवाब दिया। फिर पूछा, मैं जदयू का सबसे मजबूत नेता संतोष भास्कर बोल रहा हूं। क्या तुमने मेरा नाम सुना है। थानेदार ने नहीं में जबाव दिया। इसके बाद संतोष भास्कर बदतमीजी से बात करने लगे। नेता जी ने कहा कि औराई में छात्र जदयू के एक लड़के के साथ मारपीट की घटना घटी है। तुम उसका केस दर्ज नहीं कर रहे हो। थानेदार ने कहा कि एफआईआर कर चुके हैं। बावजूद इसके संतोष भास्कर तैश में आकर बात करने लगे। दो घंटे में वर्दी उतरवा देने की धमकी देने लगे। संतोष भास्कर ने कहा कि तुम अपनी औकात मत भूलो। थाना तुम्हारे बाप का नहीं है। जल्दी से केस दर्ज करो और आरोपियों को गिरफ्तार करो। नहीं तो दो घंटे के अंदर तुम्हारी वर्दी उतरवा देंगे।

थानेदार ने भी नेता जी को दिया जवाब

जब बात हद से आगे बढ़ गई तो थानेदार ने कहा कि जो करना है कर लो, तुम्हारे कहने से तो नहीं करेंगे। नेता जी ने कहा कि जहां थानेदार बनके जाओगे। वहां आकर तुमको तुम्हारी औकात दिखाएंगे। थानेदार ने कहा कि तुम पांच साल के लिए नेता हो। हमारे जैसी वर्दी नहीं मिली है तुम्हें। आज नेता हो कल नहीं भी रह सकते हो। दोनों के बीच करीब तीन-चार मिनट तक फोन पर विवाद चलता रहा। इसके बाद कॉल कट गया। इस मामले को लेकर औराई थानेदार ने जदयू नेता पर धमकी देने और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया था। जिस कारण युवा जदयू नेता संतोष भास्कर फरार चल रहे थे। स्वतंत्रता दिवस पर उनके गांव में आ कर झंडा फहराने कि सूचना पर पहुंची औराई थाने पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!