Published On: Tue, Jun 1st, 2021

Pappu Yadav Bail : पप्पू यादव को राहत नहीं, मधेपुरा कोर्ट से फिर खारिज कर दी गई जमानत याचिका


हाइलाइट्स

  • पप्पू यादव को राहत नहीं मिली
  • मधेपुरा कोर्ट से फिर खारिज कर दी गई जमानत याचिका
  • ट्रायल कोर्ट से भी खारिज हो चुकी है याचिका
  • कथित अपहरण के सूचक भी आए सुनवाई में

मधेपुरा:
32 साल पुराने कथित अपहरण के मामले में गिरफ्तार पूर्व सांसद पप्पू यादव को मंगलवार को भी राहत नहीं मिल पाई। मधेपुरा के जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत से भी उन्हें जमानत नहीं मिली। इस वजह से उन्हें अभी जेल में ही रहना होगा।

फिर रद्द हुई पप्पू यादव की जमानत याचिका
मधेपुरा डिस्ट्रिक्ट जज रमेश चंद्र मालवीय की अदालत ने उनकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया। इससे पहले पप्पू यादव की जमानत याचिका ट्रायल कोर्ट से भी रिजेक्ट हो चुकी थी। पिछली सुनवाई 29 मई को सेशन कोर्ट में हुई थी जहां जमानत पर सुवाई के लिए आज यानि 1 जून की तारीख मुकर्रर की गई थी। करीब 8 बजे जिला एवं सत्र न्यायाधीश रमेश चन्द्र मालवीय की अदालत में वर्चुअल माध्यम से उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई की गई।

Madhepura News: पूर्व सांसद पप्पू यादव को झटका, अपहरण के मामले में कोर्ट से नहीं मिली बेल

पप्पू के वकील की कोर्ट में दलील
इस सुनवाई में पप्पू यादव की तरफ से आज बार काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा, वरीय अधिवक्ता मनोज अम्बष्ट और मधेपुरा बार काउंसिल के सचिव संजीव कुमार ने जमानत के पक्ष में दलील दी। अधिवक्ताओं ने कहा कि पप्पू यादव लंबे समय से जेल में थे लेकिस उस काल में उन्हें अभियोजन पक्ष ने रिमांड नही किया। अधिवक्ताओं ने उनकी खराब स्वास्थ्य का भी हवाला दिया।

Pappu Yadav Story : 32 साल पुराने केस में पप्पू यादव की गिरफ्तारी, तब केस करने वाले वाले अब हैरान… इनसाइड स्टोरी

कथित अपहरण के सूचक भी आए सुनवाई में
इस सुनवाई में मुरलीगंज कांड संख्या 9/89 के सूचक शैलेन्द्र यादव, पीड़ित उमा यादव और रामकुमार यादव भी शामिल हुए थे। इन्होंने कोर्ट को कहा कि अपहरण की घटना नहीं हुई थी। बेल रिजेक्ट होने पर सूचक और पीड़ित पक्ष ने भी न्याय व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस मामले में जब सभी आरोपी बरी हो चुके हैं। यहां तक कि उन लोगों ने भी कई बार मेल पिटीशन दायर किया है। फिर भी आज राजनीतिक साजिश के तहत उन्हें जेल में रखा जा रहा है।

अधिवक्ता संजीव कुमार ने बताया जो सुचना मिल रही है उसके मुताबिक न्यायालय के आदेश का अध्ययन कर के आगे की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि उन्हें आशा थी कि न्यायालय से पप्पू यादव को जरूर राहत मिलेगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!