Published On: Mon, Apr 12th, 2021

police inspector mob lynching bengal: kishanganj SHO ko bhid me akela karke bhagne vale 7 policemen suspend : एसएचओ को भीड़ के सामने अकेला छोड़कर भागने वाले 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड इसलिए की गई कार्रवाई


पटना
बाइक चोरी के मामले में छापेमारी करने गए बिहार के पुलिसकर्मी अश्विनी कुमार की पश्चिम बंगाल सीमा में हुई हत्या को लेकर घमासान लगातार जारी है। बंगाल के सीमावर्ती उत्तर दिनाजपुर में अश्विनी कुमार की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस प्रशासन ने किशनगंज एसएचओ को भीड़ में अकेला छोड़कर गए छापेमारी टीम का हिस्सा रहे 7 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।

किशनगंज एसपी ने दी कार्रवाई की जानकारी
किशनगंज के एसपी कुमार आशीष ने रविवार को फोन पर TOI को बताया कि उन्होंने बंगाल में शनिवार को हुई लिंचिंग की घटना की रिपोर्ट आईजी (पूर्णिया रेंज) सुरेश प्रसाद चौधरी को भेज दी थी। उस रिपोर्ट के आधार पर ही आईजी ने टाउन सर्कल इंस्पेक्टर मनीष कुमार, कॉन्स्टेबल राजू साहनी, अखिलेश्वर तिवारी, प्रमोद कुमार पासवान, उज्जवल कुमार पासवान, सुनील चौधरी और सुशील कुमार को ड्यूटी से निलंबित कर दिया है। अपने कर्तव्य का पालन नहीं करने पर इन सभी को निलंबित कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें:- किशनगंज थानेदार का शव देखते ही मां ने भी त्यागे प्राण

एसपी बोले- टीम में शामिल पुलिसकर्मी एसएचओ को बचा सकते थे, लेकिन…
एसपी ने बताया कि छापेमारी के दौरान शामिल पुलिसकर्मियों के पास हथियार थे और वो एसएचओ को बचा सकते थे। लेकिन उनमें से किसी ने भी एसएचओ पर हमला करने वाली भीड़ को रोकने के लिए एक भी राउंड फायरिंग नहीं की। उन्होंने ये भी बताया कि कि आईजी सुरेश प्रसाद चौधरी ने पूर्णिया रेंज के सभी पुलिस कर्मियों को अश्विनी कुमार के परिवार के लिए अपना एक दिन का वेतन दान करने की भी अपील की है। इससे करीब 50 लाख रुपये जमा होंगे, जो शोक संतप्त परिवार के काम आएगा।

Kishanganj Sho Murder : किशनगंज थानेदार की हत्या पर बीजेपी गरम, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से की बात

पश्चिम बंगाल में हुई थी हत्या, पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार
शहीद थानेदार अश्विनी कुमार की हत्या के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों में फिरोज आलम, उसका भाई अबुजार आलम और इनकी मां सहीनुर खातुन शामिल हैं। पुलिस के मुताबिक फिरोज इस घटना का मुख्य आरोपी है। किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के पंथापड़ा में तहकीकात के सिलसिले में दलबल के साथ गए इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था।



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!