Published On: Fri, Aug 20th, 2021

UPSSSC PET : अम्बेडकरनगर में पीईटी पेपर लीक की तैयारी कर रहे चार अरेस्ट हुए

Share This
Tags


UPSSSC PET: अकबरपुर कोतवाली और क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम ने 24 अगस्त को होने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) से पहले पेपर लीक करवाने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने शुक्रवार को चार लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से पेपर लीक से सम्बंधित हाथ से लिखी उत्तर कुंजी, छह मोबाइल फोन, एक कार और दो बाइक बरामद की है। पकड़े गए लोगों में एक प्रतापगढ़ का और तीन अम्बेडकर नगर के हैं। बताया जा रहा कि यह परीक्षा प्रदेश में पहली बार आयोजित की जा रही है। इसके लिए 20.71 लाख लोगों ने पंजीकरण कराया है।

पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि तड़के लगभग तीन बजे थाना कोतवाली अकबरपुर पुलिस टीम व स्वाट टीम जिला अस्पताल पर गश्त कर रही थी। इसी बीच मुखबिर से सूचना मिली कि जिला जज आवास के बगल के मैदान में बाइक से कुछ व्यक्ति आये हैं। एक कार के अन्दर बैठकर वह लोग 24 अगस्त को होने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) का पेपर आउट कराकर उसकी उत्तर कुंजी बनाकर व्हाट्सएप के माध्यम से अभ्यर्थियों को भेजकर पैसा कमाने की योजना बना रहे हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से चार व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अभियुक्तों में अमित मिश्रा पुत्र अशोक कुमार मिश्रा निवासी विक्रमपुर, प्रतापगढ़, राधेश्याम पाण्डेय पुत्र स्व अनिल कुमार पाण्डेय निवासी बनकटा बुजुर्ग थाना राजेसुल्तानपुर अम्बेडकरनगर, मधुकर मिश्रा पुत्र स्व गौतम प्रकाश मिश्रा निवासी भारीडिहाव थाना इब्राहिमपुर अम्बेडकरनगर तथा आद्या प्रसाद तिवारी पुत्र कपिलदेव तिवारी निवासी बेलांगर थाना इब्राहिमपुर अम्बेडकरनगर शामिल हैं।

व्हाट्सएप के माध्यम से भेजते थे उत्तर कुंजी
अकबरपुर कोतवाली और क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम ने पीईटी परीक्षा के पेपर लीक कराने की तैयारी कर रहे चारों आरोपियों की जामा तलाशी ली तो उनके पास से छह मोबाइल फोन बरामद हुए। उनके फोन के व्हाटस्एप को चेक किया गया तो 24 अगस्त को होने वाली पीईटी परीक्षा के अभ्यार्थियों के एडमिट कार्ड और पेपर की हाथ से बनाई हुई उत्तर कुंजी बरामद हुई। कई व्हाटस्एप मैसेज औरचैट में पैसों के लेनदेन की बात होना पाया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि उनका एक संगठित गैंग है। वे लोग पहले पेपर आउट कराते हैं फिर उसे हल करके अभ्यार्थियों को व्हाटस्एप के जरिये भेज कर पैसा कमाते हैं।

राधेश्याम 2016 में हुए पेपर लीक में जेल जा चुका है
पकड़ा गया अभियुक्त राधेश्याम पाण्डेय 2016-2017 में पेपर लीक मामले में प्रयागराज से जेल जा चुका है। टीजीटी और पीजीटी परीक्षा के दौरान भी उस पर पुलिस की नजर थी। पिछले दिनों एसटीएफ ने उससे पूछताछ भी की थी। 

टीजीटी परीक्षा के दौरान एसटीएफ ने छह लोगों को गिरफ्तार किया था
जिले में सात अगस्त को हुई टीजीटी की परीक्षा के दौरान पकड़ी भोजपुर में पेपर लीक के बाद हुए बवाल के बाद एसटीएफ ने छह लोगों को गिरफ्तार किया था। पकड़ी भोजपुर परीक्षा केंद्र पर बवाल के चलते परीक्षा भी नहीं हो सकी थी। इसके चलते डीआईओएस निलम्बित हुए थे।

संबंधित खबरें



Source link

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

  • A WordPress Commenter on Hello world!